Homeकरियर(Career)पॉलिटेक्निक के बाद करियर विकल्प |Polytechnic Diploma & Career

पॉलिटेक्निक के बाद करियर विकल्प |Polytechnic Diploma & Career

ad-

इंजीनियरिंग के क्षेत्र में वास्तविक प्रैक्टिकल अनुभव के साथ उत्कृष्ट करियर विकल्प पाने के लिए पॉलिटेक्निक एक अच्छा कोर्स है । इस कोर्स को पूरा करने के साथ जहां – संबंधित तकनीकी क्षेत्र में आपके पास ढेरों विकल्प होंगे, वहीं इंजीनियरिंग के क्षेत्र में कार्यों को सही और दक्षतापूर्वक अंजाम देने के लिए उचित अनुभव भी होगा । 

पॉलिटेक्निक क्या है ? 

polytechnic को आप तकनीकी शिक्षाओं का आधार मान सकते हैं । इसमें युवाओं को कम समय अर्थात 3 वर्ष में इंजीनियरिंग का डिप्लोमा प्रदान किया जाता है । साथ ही उन्हें इन 3 सालों में अधिक से अधिक रियल और प्रैक्टिकल अनुभव दिया जाता है। जिससे वह इस कोर्स को पूरा करने के बाद विभिन्न उद्योगों में अपनी सेवा देने में समर्थ हो सके 

Advertisements

कुल मिला कर जब इसकी स्थापना की गयी थी तो उस समय इसका मूल उद्देश्य कम समय में तकनीकी रूप से दक्ष युवाओं को तैयार करना था जो भारत के औद्योगिक विकास को बल दे सकें वहीं स्वरोजगार करने के लायक भी बन सके । 

20वीं और 21वीं सदी में किसी भी राष्ट्र की क्षमताओं के पूर्ण आकलन के लिए आर्थिक और तकनीकी विकास एक अहम पैमाना बन गया है ।

भारत ने भी तकनीकी विकास के महत्व को समझा और उसे गति देने के लिए वर्ष 1945 में आल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन -एआईसीटीई की स्थापना की । इस संस्था को वर्ष 1987 में statutory status दिया गया ।

आजादी के पश्चात विभिन्न पंचवर्षीय योजनाओं में तकनीकी क्षमताओं के विस्तार पर जोड़ दिया गया । फलस्वरूप तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ । बड़ी संख्या में इंजीनियरिंग कॉलेज , पॉलिटेक्निक , और आईटीआइ की स्थापना की गई । जहां आजादी से पूर्व भारत में तकनीकी शिक्षा देने वाले कॉलेज की संख्या उंगलियों पर गिनने लायक थी आज कम से कम हजारों की संख्या में कॉलेज हैं और भारत एक तकनीकी शक्ति के रूप में भी अपने पैर जमा रहा है ।

पॉलिटेक्निक

Polytechnic में एड्मिशन प्रक्रिया

polytechnic की डिग्री देने वाले सरकारी और निजी दोनों प्रकार के कॉलेज हैं । सरकारी कॉलेज में जहां फीस कम होती है वहीं निजी कॉलेज से डिग्री प्राप्त करने के लिए आपको फीस सहित अन्य शुल्क के रूप में थोड़े पैसे व्यय करने पड़ेंगे । 

पॉलिटेक्निक कॉलेज में एडमिशन के लिए विभिन्न राज्यों में राज्य स्तरीय प्रतियोगिता होती है , जिसमें सफल होकर आप सरकारी महाविद्यालय में नामांकन हेतु अपने लिए स्थान सुरक्षित कर सकते हैं । इसके अलावा विभिन्न निजी कॉलेज भी अपने यहाँ विद्यार्थियों के प्रवेश के लिए अपनी अलग प्रतियोगिता आयोजित करते हैं । 

कुल मिला कर आप को इन पॉलिटेक्निक कॉलेज में एडमिशन के लिए कोई बहुत ज्यादा परिश्रम करने की जरूरत नहीं पड़ेगी । 

आप polytechnic में एडमिशन दसवीं कक्षा के बाद या 10+2 के बाद भी ले सकते हैं । वैसे यदि आप 10 वीं कक्षा के बाद एडमिशन ले लेते हैं तो आपके दो साल बच जाएंगे जिसे यदि आप चाहें तो अपने करियर में आगे बढ़ने हेतु उच्च शिक्षा अर्जित करने में लगा सकते हैं । 

Advertisements

पॉलिटेक्निक के प्रमुख कोर्स

वैसे तो engineering में जितने भी ब्रांच हैं लगभग सबके लिए डिप्लोमा में भी पढ़ाई होती है । ये संभव है कि उनमें से हर ब्रांच की पढ़ाई हरेक कॉलेज में नहीं होती हो और किसी विशेष ब्रांच की पढ़ाई के लिए आपको अपने गृह जिले या घर से थोड़ी दूर जाना पड़े ! आगे आपकी सुविधा के लिए हम कुछ प्रमुख और लोकप्रिय polytechnic course का उल्लेख कर रहें हैं ।

कुछ बहुत ही लोकप्रिय और रोजगारोन्मुखी कोर्स हैं –

  • डिप्लोमा इन इलेक्ट्रानिक्स इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन मेकनिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन सिविल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन केमिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन कंप्युटर साइंस एण्ड इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन सेरामिक्स

Polytechnic के बाद करियर 

पॉलिटेक्निक में चूंकि आपको engineering के बेसिक लेवल की जानकारी दी जाती है और साथ ही दिया जाता है प्रैक्टिकल ज्ञान । Polytechnic के बाद के करियर में आपके सामने मुख्य रूप से दो विकल्प उपलब्ध रहते हैं । 

  1. नौकरी का विकल्प
  2. उच्च शिक्षा का विकल्प

आगे हम दोनों विकल्पों पर विस्तार से चर्चा करेंगे । इन दोनों विकल्पों में से किसी एक विकल्प का चयन  पूर्णतः आपकी  व्यक्तिगत रुचि , क्षमताओं और निष्ठा पर निर्भर करता है । जिसमें आप को अपनी पारिवारिक स्थिति और अपनी रुचि का ध्यान रख कर निर्णय लेना होता है । 

पारिवारिक स्थिति इसलिए कि आगे की पढ़ाई में आपको धन की आवश्यकता पड़ने वाली है ! तो क्या परिवार के तरफ से आपको सहयोग मिल पाएगा ? अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए ! क्या आपका परिवार आर्थिक संकटों से गुजर रहा है ? और परिवार की स्थिति के कारण आपको नौकरी के लिए विवश होना पड़ सकता है । 

वहीं यदि आगे की पढ़ाई में आपकी रुचि नहीं है तो फिर नौकरी स्वतः आपके लिए एकमात्र विकल्प बन जाती है । 

एक बार इन सभी तथ्यों को सही से सोच-समझ कर, उनका विश्लेषण कर के आप अपने स्तर एक सुदृढ़ निर्णय ले सकते हैं । आगे हम सबसे पहले उच्च शिक्षा की चर्चा कर रहे हैं कि यदि आपने उच्च शिक्षा का निर्णय लिया तो आपके लिए क्या-क्या विकल्प हैं ? और क्या करना अच्छा रहेगा ? 

उच्च शिक्षा 

उच्च शिक्षा में आपके पास BTech करने का विकल्प रहेगा । सभी प्रमुख इंजीनियरिंग कॉलेज में engineering diploma धारकों के लिए कुछ सीटें आरक्षित रहती हैं । diploma धारकों को लेटरल एंट्री स्कीम के तहत सीधे द्वितीय  वर्ष ( Second Year ) में दाखिला मिलता है । 

आपको वहाँ और तीन साल पढ़ाई करनी होगी । 3 साल सफलतापूर्वक सम्पन्न करने के बाद आपको इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री मिल जाएगी । 

फिर आप अपने प्रोफेशनल करियर में उन सभी पदों के लिए स्वतः योगय हो जाएंगे जिसमें इंजीनियरिंग में स्नातक की आवश्यकता पड़ती है । आपके लिए भविष्य में उन सभी संभावनाओं के द्वार खुल जाएंगे जिसमें इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन एक शिक्षा-शर्त के रूप में मौजूद रहता है । इसके बाद पुनः आप अपना भविष्य अधिक सुदृढ़ तरीके से निश्चित कर सकते हैं । 

नौकरी 

यदि इंजीनियरिंग डिप्लोमा के बाद आप नौकरी करना चाहते हैं तो भी आपके पास रोजगार के ढेरों अवसर उपलब्ध रहते हैं । इस डिप्लोमा के बाद आप को सरकारी और निजी दोनों क्षेत्रों में नौकरी प्राप्त करने की अपार संभावनाएं हैं । निजी क्षेत्रों में आप अपनी विशेषज्ञता वाले क्षेत्रों जैसे कि – इलेक्ट्रिकल , मैकेनिकल , इलेक्ट्रॉनिक्स , टेलीकम्युनिकेशन आदि में तो नौकरी पा सकते हैं । 

इसके अलावा आपको पीएसयू और सरकारी कंपनियों में भी काम करने के बहुत सारे मौके मिलेंगे । डिप्लोमा धारियों को हायर करने वाली ( अपने यहां नौकरी पर रखने वाली ) भारत की कुछ प्रमुख पीएसयू हैं – एनटीपीसी(NTPC) , गेल(GAIL), भेल(BHEL), बीएसएनएल(BSNL) , भारत इलेक्ट्रॉनिक्स(BEL) आदि ।

इसके अलावा अन्य प्रमुख सरकारी कंपनियां जैसे –डीआरडीओ , भारतीय सेना , इसरो , एनएसएस ,आईपीएल , हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स सहित अन्य में भी आपके लिए नौकरी की संभावना है ।

इसी तरह से यदि हम निजी क्षेत्र ( Private Sector ) की प्रमुख कंपनियों की बात करें तो वहां तो जो भी इंजीनियरिंग से जुड़ी कंपनी है हरेक के पास डिप्लोमा धारकों के लिए काम है । 

आगे हम क्षेत्र के आधार पर कुछ प्रमुख कंपनियों का जिक्र कर रहें हैं – 

  • एयरलाइन्स में – इंडिगो , स्पाइसजेट एवं अन्य
  • कम्युनिकेशन में एयरटेल , रिलायंस, रिलायंस जियो, वोडाफोन आइडिया सहित अन्य
  • कंस्ट्रक्शन में – जीएमआर , यूनिटेक , डीएलएफ सहित अन्य कंपनियाँ 
  • इनफार्मेशन टेक्नॉलजी – टीसीएस, एचसीएल, विप्रो, इत्यादि.
  • इलेक्ट्रिकल में – L&T, टाटा पावर, BSES, सीमेंस, इत्यादि.

भारत के कुछ प्रसिद्ध कॉलेज 

वैसे तो हरेक राज्य और प्रायः हर जिले में पॉलिटेक्निक कॉलेज की व्यवस्था विभिन्न राज्यों की राज्य सरकारों ने कर रखा है । आप यदि अपने राज्य के किसी भी प्रसिद्ध कॉलेज से डिग्री प्राप्त कर लेते हैं तो आपको उत्कृष्ट शिक्षा मिलेगी जिससे आपको अपने करियर में ऊंचाई हासिल करने में लाभ मिलेगा । 

यहाँ हम कुछ प्रसिद्ध पॉलीटेक्निक कॉलेज के नामों का उल्लेख कर रहें हैं , देश में polytechnic की डिग्री देने वाले कॉलेज की संख्या हजारों में है। हमने प्रतीकात्मक रूप से कुछ चुनिंदा कॉलेज का उल्लेख किया है । यदि आप इन कॉलेज के बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो कमेन्ट बॉक्स में लिखें हम आगे इस पर विस्तार में जानकारी देने की कोशिश करेंगे ।

  • गुरूनानक देव इंजीनियरिंग कॉलेज, लुधियाना
  • इंजीनियरिंग कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, पुणे
  • एमिटी स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, नोएडा
  • दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • नेताजी सुभाष इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली
  • पंजाब टेक्नीकल यूनिवर्सिटी, जलंधर
  • पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़
  • चंडीगढ़ समूह कॉलेज, चंडीगढ़
  • हार्कोर्ट बटलर टेक्नोलॉजिकल इंस्टिट्यूट, कानपुर

अंतिम विचार

इंजीनियरिंग वैज्ञानिक सिद्धांतों को जमीन पर उतारने की कला का नाम है । आज के युग में हो रही सभी तकनीकी विकास में किसी न किसी रूप में इंजीनियरिंग शामिल है । ये अपने आप में काफी रुचिकर क्षेत्र है बशर्ते आप मेहनत करने में यकीन रखते हों !  क्योंकि इंजीनियरिंग में कुछ अच्छा करने के लिए आपको श्रम की आवश्यकता तो पड़ेगी । 

पालीटेक्निक प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग के क्षेत्र में प्रोफेशनल करियर बनाने के लिए एक शॉर्टकट जैसा है । पॉलीटेक्निक आपको एक प्राथमिक स्तर का इंजीनियर बनाता है । और आपको 3 साल में हैंड्स ऑन एक्सपीरियंस के साथ एक प्रोफेशनल डिग्री भी मिल जाती है । 

इस उपाधि को प्राप्त कर लेने के पश्चात आपके करियर में नए पंख लग जाएंगे , आपके लिए संभावनाओं के नए द्वार खुल जाएंगे इसमें कोई दोराय नहीं हो सकता है । 

*** 

हमें पूरा विश्वास है कि हमारा यह करियर लेख – पॉलिटेक्निक के बाद करियर जिसमें हमने आपको polytechnic से संबंधित कुछ तथ्यात्मक जानकारियां दीं हैं पसंद आया होगा । त्रुटि अथवा किसी भी अन्य प्रकार की टिप्पणियां नीचे कमेंट बॉक्स में सादर आमंत्रित हैं …लिख कर जरूर भेजें ! इस लेख को अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल्स पर शेयर भी करे क्योंकि Sharing is Caring !

बने रहिये Vichar Kranti.Com के साथ । अपना बहुमूल्य समय देकर लेख पढ़ने के लिए आभार ! आने वाला समय आपके जीवन में शुभ हो ! फिर मुलाकात होगी किसी नए आर्टिकल में ..

यदि आपको हमारा प्रयास अच्छा लगा हो तो इस लेख पर अपने विचार आगे comment box में लिख कर जरूर भेजें । इसे अपने दोस्तों के साथ social media पर भी शेयर करें एवं ऐसे ही अच्छी जानकारियों के लिए हमें सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर लें ।

निवेदन : – यदि आप हिन्दी में विविध विषयों पर अच्छा लिखते हैं या आपको अच्छा इमेज बनाने आता है या कोई ऐसी skill आपमें है जिसकी आप समझते हैं कि vicharkranti blog को जरूरत हो सकती है तो कृपया आप हमारे पेज work4vicharkranti पर जाकर अपना details सबमिट कीजिए । साथ ही हमें एक मेल भी डाल दीजिए हमारा email id है -contact@vicharkranti.com । हमारी टीम आपसे संपर्क कर लेगी ।

Advertisements
VicharKranti Editorial Team
VicharKranti Editorial Team
जरूरत भर की नई और सही सूचनाओं को आप तक पहुंचाना ही लक्ष्य है । विद्यार्थियों के लिए करियर और पढ़ाई लिखाई के अतिरिक्त प्रेरक content लिखने पर हमारा जोर है । हमारे लेखों पर अपने विचार comment box में लिखिए और विचारक्रान्ति परिवार का हिस्सा बनने के लिए नीचे दिए गए सोशल मीडिया हैंडल पर हमसे जुड़िये

Subscribe to our Newsletter

हमारे सभी special article को सबसे पहले पाने के लिए न्यूजलेटर को subscribe करके आप हमसे फ्री में जुड़ सकते हैं । subscription confirm होते ही आप नए पेज पर redirect हो जाएंगे । E-mail ID नीचे दर्ज कीजिए..

2 COMMENTS

  1. Ye mere question h ki agr maine polytechnic ka 3 year ka course kiya or iske bad mera job nhi lga or mai commers se kiya hu to kya mai banking ka bhi taiyari kr skta hu because inter ka documents milega n polytechnic karne pr

    Please reply me

    • यदि आपने कॉमर्स की पढ़ाई की है तो आप उसके आधार पर बैंकिंग की प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठ सकते है ।
      विचार क्रांति डॉट कॉम के एक पाठक के रूप में आपको हमारी शुभकामनाएं .. आपका आभार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

आपके लिए कुछ और पोस्ट

VicharKranti Student Portal

छात्रों के लिए कुछ positive करने का हमारा प्रयास । इस वेबसाईट का एक हिस्सा जहां आपको मिलेंगी पढ़ाई लिखाई से संबंधित चीजें ..