Homeसामान्य ज्ञानSindhu Ghati Sabhyata | सिंधु घाटी -से संबंधित तथ्य और GK Quiz

Sindhu Ghati Sabhyata | सिंधु घाटी -से संबंधित तथ्य और GK Quiz

इस लेख में हमारा प्रयास है संक्षेप में सिंधु घाटी सभ्यता के प्रमुख तथ्यों को संकलित और प्रस्तुत करने का । मुझे पूरा उम्मीद है आप इस लेख से सिंधु घाटी सभ्यता के अहम पहलुओं से रूबरू हो पाएंगे । इन तथ्यों का ज्ञान आपके लिए विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयोगी होगा ।

सिंधु घाटी सभ्यता से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

सिंधु घाटी या हड़प्पा सभ्यता 2500 ईसवी पूर्व से 1750 ईसवी पूर्व)

  • हड़प्पा सभ्यता की खोज दयाराम साहनी ने 1921 में की
  • तत्कालीन भारतीय पुरातत्त्व विभाग के निदेशक जनरल जॉन मार्शल ने सन 1924 में सिंधु घाटी सभ्यता की खोज की घोषणा की ।
  • चार्ल्स मैस्सन ने सर्वप्रथम (1826 ) हड़प्पा का उल्लेख किया था बाद में एलेक्जेण्डर कनिंघम ने 1856 में इस सभ्यता का सर्वेक्षण कार्य पूरा किया । यहां आपके लिए यह जानना जरूरी है कि सन 1861 में इन्हीं एलेक्जेण्डर कनिंघम साहब के नेतृत्व में भारतीय पुरातत्व विभाग का गठन हुआ था । जिस कारण इन्हें भारतीय पुरातत्व विभाग का जनक (Father of Indian Archaeology) भी माना जाता है
  • वर्तमान पाकिस्तान के हड़प्पा नामक स्थान से इसके उत्खनन कार्य शुरू होने के कारण इसे हड़प्पा सभ्यता का नाम दिया गया ।
  • सिंधु घाटी एक नगरीय सभ्यता थी जिसके प्रमुख 6 नगर -मोहनजोदड़ों ,हड़प्पा, काली बंगा, गणवारीवाला ,धौलवीरा और राखीगढ़ी को माना गया है ।
  • इस सभ्यता में समाज मातृसतात्मक था । वृक्ष पूजा और शिव की पूजा के भी साक्ष्य मिले हैं । धरती को लोग उर्वरता की देवी मान कर पूजा करते थे । शवों को जलाने और दफनाने दोनों की परंपरा थी ।
  • सिंधु घाटी में नगरों का विकास हुआ था । गेंहू और जौ मुख्य फसल थे । मिठास के लिए शहद का उपयोग किया जाता था । कुछ जगहों ( रंगपुर और लोथल ) पर चावल के दाने भी मिले हैं जिससे ऐसा समझा जा सकता है कि धान की भी खेती होती थी ।
  • लोथल और सुतकोतदा प्रमुख बंदरगाह के रूप में चिन्हित हैं ।
  • स्वस्तिक चिह्न भी सिंधु घाटी सभ्यता से ही प्राप्त हुए हैं जिसे सूर्य की उपासना के प्रमाण के तौर पर स्वीकृत किया जाता है ।

आगे आपके अभ्यास के लिए तथ्यों को बहुवैकल्पिक क्विज़ प्रश्नों के रूप में दिया जा रहा है । आप सिंधु घाटी सभ्यता पर अपने ज्ञान की परीक्षा इस टेस्ट में भाग लेकर कर सकते हैं ।

हड़प्पा सभ्यता से संबंधित क्विज़

0

Sindhu Ghati Quiz

1 / 17

विश्व में चांदी सर्वप्रथम कब पाई गई थी ?

2 / 17

हड़प्पा संस्कृति की सर्वोत्कृष्ट विशेषता क्या है ?

3 / 17

भारतीय पुरातत्व का जनक किसे कहा जाता है ?

4 / 17

सिंधु घाटी सभ्यता के बंदरगाह कौन से थे ?

5 / 17

पहली बार कपास उगाने का श्रेय किसको प्राप्त है ?

6 / 17

हड़प्पा सभ्यता के लोग बर्तन में किस धातु का प्रयोग करते थे ?

7 / 17

हड़प्पा टीले का सर्वप्रथम उल्लेख किसके द्वार किया गया ।

8 / 17

मोहन जोदड़ो में किस तरह के कपड़े का साक्ष्य मिला है ?

9 / 17

हड़प्पा सभ्यता की खोज किसने की ?

10 / 17

सिंधु सभ्यता का विस्तार कितने स्थलों पर पाया गया है ?

11 / 17

कालीबंगा वर्तमान में किस राज्य में स्थित है ?

12 / 17

हड़प्पा और मोहन जोदड़ो को विस्तृत सम्राज्य की जुड़वा राजधानी किसने बताया ?

13 / 17

मोहन जोदड़ो में सबसे विशाल भवन क्या था ?

14 / 17

ऋग्वेद में हड़प्पा सभ्यता को क्या कहा गया है ?

15 / 17

तराजू किस जगह पर मिलने का साक्ष्य मिला है ?

16 / 17

सिंधु घाटी का मुख्य केंद्र क्या था

17 / 17

सिंधु सभ्यता के उत्थान का चरमोत्कर्ष काल कब माना जाता है ?

Your score is

The average score is 0%

सिंधु घाटी सभ्यता से जुड़े कुछ प्रमुख प्रश्न

  1. हड़प्पा सभ्यता की खोज किसने की ?
    उत्तर- दया राम साहनी ने 1921 में हड़प्पा सभ्यता की खोज की ।
  2. हड़प्पा टीले का सर्वप्रथम उल्लेख किसके द्वार किया गया ?
    उत्तर- 1826 ईसवी में चार्ल्स मैस्सन द्वारा
  3. हड़प्पा सभ्यता को हड़प्पा सभ्यता क्यों कहा गया ?
    उत्तर- क्योंकि 1921 में पहली बार पाकिस्तान के हड़प्पा नामक जगह पर इस सभ्यता का उत्खनन कार्य किया गया ।
  4. सिंधु घाटी के लोगों द्वारा प्रयोग में लाए जाने वाले वर्तन किस पर बने होते थे ?
    उत्तर- चाक पर
  5. हड़प्पा सभ्यता के सर्वाधिक स्थल किस जगह पर मिले है ?
    उत्तर- गुजरात राज्य में
  6. सिंधु सभ्यता का विस्तार कितने स्थलों पर पाया गया है ?
    उत्तर- भारत और पाकिस्तान में लगभग 1500 स्थलों पर पाया गया है।
  7. सिंधु सभ्यता के उत्थान का चरमोत्कर्ष काल कब माना जाता है ?
    उत्तर- 2100 ईसवी पूर्व
  8. ऋग्वेद में हड़प्पा सभ्यता को क्या कहा गया है ?
    उत्तर- हरयुपिया कहा गया है ।
  9. सिंधु घाटी का मुख्य केंद्र क्या था ?
    उत्तर- हड़प्पा
  10. सिंधु क्षेत्र का प्राचीन नाम क्या था ?
    उत्तर-मेलुहा
  11. विश्व में चांदी सर्वप्रथम कब पाई गई थी ?
    उत्तर-हड़प्पा सभ्यता भारत में पाई गई।
  12. सिंधु घाटी सभ्यता के बंदरगाह कौन था ?
    उत्तर-लोथल और सुरकोतदा
  13. सैधंवासियों मिठास के लिए क्या प्रयोग करते थे ?
    उत्तर-शहद का
  14. मोहन जोदड़ो में सबसे विशाल भवन क्या था ?
    उत्तर-सबसे विशाल भवन अन्नगार था ।
  15. हड़प्पा में प्राप्त मुद्रा में किनका अंकन मिलता है ?
    उत्तर- गरुड़ का
  16. सैंधव सभ्यता का विनाश का सबसे प्रभावी कारण क्या था ?
    उत्तर-बाढ़
  17. पहली बार कपास उगाने का श्रेय किसको प्राप्त है ?
    उत्तर-हड़प्पा बसियों को
  18. हड़प्पा सभ्यता के लोग बर्तन में किस धातु का प्रयोग करते थे ?
    उत्तर- तांबे का बर्तन
  19. सैंधव किसकी पूजा करते थे ?
    उत्तर-मातृ देवी की पूजा करते थे ।
  20. सैंधववासियों का मुख्य भोजन क्या था ?
    उत्तर-गेंहू और जौ
  1. सैन्धव कालीन मुहरें किस जगह सबसे ज्यादा प्राप्त हुई हैं ?
    उत्तर- हड़प्पा
  2. सैंधवसियों का मुख्य व्यवसाय क्या था ?
    उत्तर-कृषि
  3. सिंधु घाटी सभ्यता में किस जगह पर हवनकुंड का साक्ष्य मिला है ?
    उत्तर-लोथल और कालीबंगा में
  4. पर्दा प्रथा और वैश्यावृत्ति किस सभ्यता में प्रचलित थी ?
    उत्तर- सैंधव सभ्यता में

25.हड़प्पा और मोहन जोदड़ो को विस्तृत सम्राज्य की जुड़वा राजधानी किसने बताया ?
उत्तर- पिगट ने
26.कालीबंगा वर्तमान में किस राज्य में स्थित है ?
उत्तर- राजस्थान

27.भारतीय पुरातत्व का जनक किसे कहा जाता है ?
उत्तर- अलेक्जैंडर कनिंघम को

  1. मोहन जोदड़ो में किस तरह के कपड़े का साक्ष्य मिला है ?
    उत्तर- सूती कपड़े का
  2. सैंधवसियों बांटो का प्रयोग किस प्रकार करते थे ?
    उत्तर- दशमलव प्रणाली के आधार पर ।
  3. तराजू किस जगह पर मिलने का साक्ष्य मिला है ?
    उत्तर- लोथल में
  4. हड़प्पा संस्कृति की सर्वोत्कृष्ट विशेषता क्या है ?
    उत्तर- नगर नियोजन

हमें पूरा विश्वास है कि सिंधु घाटी सभ्यता – Sindhu Ghati Sabhyata से संबंधित history gk लिखने का हमारा यह प्रयास आपको अच्छा लगा होगा । इसे और अधिक उपयोगी और तथ्यपूर्ण बनाने हेतु आपके सभी सुझावों का स्वागत है । कृपया कमेन्ट बॉक्स में अपने विचार जरूर लिखें । इस लेख को अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल्स पर शेयर भी करे क्योंकि Sharing is Caring !

बने रहिये Vichar Kranti.Com के साथ । अपना बहुमूल्य समय देकर लेख पढ़ने के लिए आभार ! आने वाला समय आपके जीवन में शुभ हो ! फिर मुलाकात होगी किसी नए आर्टिकल में ..

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो आपको हमारा फेसबुक पेज जरुर पसंद आएगा…! हमसे जुड़ने के लिए इस लिंक >> विचारक्रांति फेसबुक पेज << पर क्लिक करके आप हमसे Facebook पर जुड़ सकतें हैं

निवेदन : – हमें अपनी टीम में ऐसे लोगों की जरूरत है जो हिन्दी में अच्छा लिख सकते हों । यदि आप हमारी टीम में एक कंटेन्ट राइटर के रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आगे दिए गए ईमेल पते पर मेल कीजिए । प्रत्येक लेख और आपकी लेखन क्षमता के हिसाब से उचित राशि प्रदान की जाएगी ।


इसके अलावा यदि कोई धनराशि प्राप्त किए बिना, आप हिंदी में कुछ मोटिवेशनल अथवा अन्य आर्टिकल लिख कर हमारा सहयोग करना चाहते हैं तो भी आपका स्वागत है ! लिख भेजिए अपने फोटो के साथ हमारे Email पते पर । हम उसे समीक्षा के पश्चात आपके नाम से प्रकाशित कर देंगे । हमसे जुड़ने के लिए संपर्क कीजिये Email :contact@vicharkranti.com

मूल लेखन व संकलन – नीरज ( विचारक्रान्ति के लिए )

Vichar Kranti
विचारक्रांति टीम (Vichar-Kranti.Com) - चंद उत्साही लोगों की टीम जो आप तक पहुंचाना चाहते हैं सही और जीवनोपयोगी सूचनाओं के साथ जीवन बदलने वाले सकारात्मक विचारपुंजों को । उदेश्य सिर्फ एक कि - सब आगे बढ़े और सबके साथ हम भी ! आप भी अगर कुछ अच्छा लिखते हैं, तो जुड़ जाईये न हमारे साथ ... मिलकर कुछ अच्छा करते हैं ...! संपर्क सूत्र : contact@vicharkranti.com जय विचारक्रांति !

इस पोस्ट पर अपनी प्रतिक्रिया,अपनी बातें यहां नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर हम तक जरूर भेजिए.सभी नए पोस्ट के ईमेल नोटिफिकेशन पाने के लिए नीचे चेकबॉक्स को टिक करिये. धन्यवाद...!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

कुछ नए पोस्ट्स

संबद्ध लिंक अमेजन -

पढिए अच्छी किताबों मे
सफलता के सीक्रेट

Vichar-Kranti

पढ़िए जीवन बदलने वाले Ideas,महापुरुषों के प्रेरक वचन,जीवनी, करियर के विकल्प और भी बहुत कुछ...जुड़िये विचारक्रांति से

error: Content is protected !!