Homeसामान्य ज्ञानGK History | सामान्यज्ञान श्रृंखला में पढिए वैदिक साहित्य से प्रश्न

GK History | सामान्यज्ञान श्रृंखला में पढिए वैदिक साहित्य से प्रश्न

gk history में आगे आप पढ़ पाएंगे वैदिक साहित्य से संबंधित कुछ विशेष तथ्यों और प्रश्नों के बारे में लेकिन उससे पहले संक्षिप्त चर्चा इतिहास के संबंध में

दोस्त , इतिहास अतीत अर्थात बीते दिनों के अध्ययन और विश्लेषण की एक विधा है । इतिहास इति + ह +आस इन तीनों के संयोग से बना हुआ है । जानकारों के अनुसार इति का अर्थ है – जैसा हुआ वैसे ही , ह यानि सचमुच और आस से निरन्तरता का बोध होता है ।

Advertisements

तो इस तरह से इतिहास का मतलब हुआ – बीते दिनों के कहानियों की तथ्यात्मक शृंखला । जहां ज्ञात घटनाओं को साक्ष्यों और तार्किक विश्लेषणों के आधार पर क्रमबद्ध ढंग से सजाया जाता है ताकि उन दिनों के बारे में सटीक जानकारी प्राप्त की जा सके ।

अंग्रेजी में इतिहास को history कहते हैं । सबसे पहले history शब्द का प्रयोग हेरोडोटस ने अपनी प्रसिद्ध पुस्तक हिस्टोरिका में किया था । इसलिए हेरोडोटस को इतिहास का पिता (father of history) कहा जाता है

इतिहास के अध्ययन का लाभ यह है कि अपने अतीत के अच्छे और बुरे कार्यों से अनुभव और सीख लेकर उत्कृष्ट भविष्य निर्माण की योजनाओं को निर्धारित करना किसी भी देश और समाज के लिए बहुत आसान हो जाता है ।

अध्ययन की सुविधा के लिए इतिहास को प्रायः 3 भागों में विभाजित किया जाता है । 1). प्राचीन इतिहास 2). मध्यकालीन इतिहास और 3). आधुनिक इतिहास ।

विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने वाले छात्रों के मूल्यांकन में इतिहास से संबंधित प्रश्नों का भी एक अहम स्थान है । चाहे आप किसी ग्रुप D या MTS से लेकर एसएससी, आईएएस या इंजीनियरिंग सर्विस की परीक्षा को देख ले । अभ्यर्थियों के मूल्यकन में सामान्य ज्ञान के प्रश्नों का स्थान अवश्य होता है ।

इसलिए हम आने वाले दिनों में इतिहास से संबंधित विभिन्न छात्रोपयोगी जानकारियों को तथ्यों और प्रश्नों के रूप में लिखने की शुरुआत कर रहे हैं । आगे आने वाले लेखों में हम भारत के इतिहास से संबंधित तथ्यों को रखने की कोशिश करेंगे । साथ ही इसे छात्रों के लिए और अधिक उपयोगी बनाने के लिए अंत में विभिन्न प्रश्नों को gk quiz के रूप में देने की कोशिश भी कर रहें हैं । इस सीरीज को और अधिक उपयोगी बनाने के लिए आप अपने विचारों को कमेन्ट बॉक्स में लिख कर हमारा मार्गदर्शन जरूर करें ।

पहले तथ्यों को पढिए और फिर आगे क्विज़ में भाग लेकर अपने ज्ञान को परखिये ।


वैदिक साहित्य से History GK तथ्य

Advertisements
  • वेद शब्द का शाब्दिक अर्थ होता है ज्ञान ।
  • वेद कुल चार हैं -ऋग्वेद,यजुर्वेद,सामवेद और अथर्ववेद । सबसे पुराना वेद ऋग्वेद और सबसे नवीन अथर्ववेद है ।
  • ऋग्वेद में कुल 1028 सूक्त और 10462 ऋचाएं हैं ।
  • सामवेद को भारतीय संगीत का आदि स्त्रोत माना जाता है ।
  • अथर्ववेद में विभिन्न प्रकार के कर्मकांडों का विवरण मिलता है ।
  • पुराणों को भारतीय संस्कृति में ऐतिहासिक कथाओं का प्रामाणिक स्त्रोत माना जाता है ।
  • कुल 18 पुराणों में सबसे प्राचीन पुराण का नाम है मत्स्यपुराण । पुराणों में मौर्य वंश ,गुप्त वंश और सातवाहन आदि साम्राज्यों का उल्लेख है ।
  • स्मृति ग्रंथों में मनुस्मृति प्रमुख है ।
  • वेदांग वेद की शिक्षाओं को ठीक से समझने के लिए जरूरी है ।
  • वेदांग की कुल संख्या 6 है -जो कि हैं क्रमशः शिक्षा, कल्प, व्याकरण, ज्योतिष, छन्द और निरूक्त ।

आगे प्रस्तुत है – क्विज़ (gk history) संख्या एक । जिसमें आपको प्रश्नों को एक परीक्षा प्रारूप में हल करने का मौका मिलेगा । सही उत्तर के लिए हरे रंग और आपके द्वारा दिए गए गलत उतर को लाल रंग से दर्शाया जाएगा । टाइमर की सुविधा भी उपलब्ध है …

GK History Quiz

0

vaidik sabhyata

1 / 1

भारतीय पुरातत्व का जनक किसे कहा जाता है ?

हमें विश्वास है कि हमारा यह वैदिक साहित्य से संबंधित history gk लिखने का प्रयास प्रयास आपको अच्छा लगा होगा । इसे और अधिक उपयोगी बनाने हेतु आपके विचार और अन्य टिप्पणियाँ नीचे कमेंट बॉक्स में सादर आमंत्रित हैं …लिख कर जरूर भेजें ! यदि संभव हो तो इसे शेयर भी करें क्योंकि Sharing is Caring !

बने रहिये Vichar Kranti.Com के साथ । अपना बहुमूल्य समय देकर लेख पढ़ने के लिए आभार ! आने वाला समय आपके जीवन में शुभ हो ! फिर मुलाकात होगी किसी नए आर्टिकल में ..

यदि आपको हमारा प्रयास अच्छा लगा हो तो इस लेख पर अपने विचार आगे comment box में लिख कर जरूर भेजें । इसे अपने दोस्तों के साथ social media पर भी शेयर करें एवं ऐसे ही अच्छी जानकारियों के लिए हमें सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर लें ।

निवेदन : – हमें अपनी टीम में ऐसे लोगों की जरूरत है जो हिन्दी में अच्छा लिख सकते हों । यदि आप हमारी टीम में एक कंटेन्ट राइटर के रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आगे दिए गए ईमेल पते पर मेल कीजिए । प्रत्येक लेख और आपकी लेखन क्षमता के हिसाब से उचित राशि प्रदान की जाएगी । हमसे जुड़ने के लिए संपर्क कीजिये Email :contact@vicharkranti.com

Advertisements
Vichar Kranti
विचारक्रांति टीम (Vichar-Kranti.Com) - चंद उत्साही लोगों की टीम जो आप तक पहुंचाना चाहते हैं सही और जीवनोपयोगी सूचनाओं के साथ जीवन बदलने वाले सकारात्मक विचारपुंजों को । उदेश्य सिर्फ एक कि - सब आगे बढ़े और सबके साथ हम भी ! आप भी अगर कुछ अच्छा लिखते हैं, तो जुड़ जाईये न हमारे साथ ... मिलकर कुछ अच्छा करते हैं ...! संपर्क सूत्र : contact@vicharkranti.com जय विचारक्रांति !

Subscribe to our Newsletter

हमारे सभी special article को सबसे पहले पाने के लिए न्यूजलेटर को subscribe करके आप हमसे फ्री में जुड़ सकते हैं । subscription confirm होते ही आप नए पेज पर redirect हो जाएंगे । E-mail ID नीचे दर्ज कीजिए..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

VicharKranti Student Portal

छात्रों के लिए कुछ positive करने का हमारा प्रयास | इस वेबसाईट का एक हिस्सा जहां आपको मिलेंगी पढ़ाई लिखाई से संबंधित चीजें ..

कुछ नए पोस्ट्स

amazon affiliate link

पढिए अच्छी किताबों में
सफलता के सीक्रेट