Home Biography SANDEEP MAHESHWARI की BIOGRAPHY तथा SUCCESS STORY

SANDEEP MAHESHWARI की BIOGRAPHY तथा SUCCESS STORY

sandeep-maheshwari-ki-jeevani

Sandeep Maheshwari Biography in Hindi:- मानव का जन्म ही उत्कर्ष की स्थिति को प्राप्त करने के लिए हुआ है. सफलता और असफलता के दो किनारों के बीच ही मानव जीवन गति पाता है. यह दोनों हमारे जीवन के अनिवार्य पूरक तत्व हैं. हमेशा कोई सफल नहीं हो सकता और सदैव कोई और असफल भी नहीं हो सकता. लेकिन असफलताएं व्यक्ति के भीतर हताशा और कुंठा का भाव उत्पन्न करती हैं. 

कुंठित हो अवसाद का  ग्रास बनते मानव के बीच भारतीय संस्कृति के महान उद्घोष ‘अहं ब्रह्मास्मि’ की मूल भावना को पहुंचाने वाले व्यक्तित्व का नाम है संदीप माहेश्वरी. इस लेख के नायक और इमेज बाजार जैसी इमेज रिपॉजिटरी वेबसाइट जिस पर लाख से अधिक मॉडल के भारतीय जन-जीवन और संस्कृति से सम्बंधित फोटो हैं के संस्थापक का नाम है sandeep maheshwari संदीप माहेश्वरी(sandeep maheshwari). जिन्होंने अपने विचार और कार्य से वास्तव में सब कुछ आसान बना दिया.

संदीप के बारे में कुछ बहुत ही अहम् जानकारी 

Sandeep Maheshwari Wiki

नाम संदीप माहेश्वरी
कंपनी इमेज बाजार
कुल संपत्ति NA
व्यवसाय प्रेरक वक्ता, फोटो ग्राफर,उद्यमी
Tagline “आसान है…”

Sandeep Maheshwai का प्रारंभिक जीवन 

संदीप माहेश्वरी का जन्म दिल्ली में एक साधारण मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था. उनकी प्रारंभिक शिक्षा दीक्षा दिल्ली में ही हुई, जहां उनके पिता अल्मुनियम के व्यवसाय में थे. संदीप जब लगभग 17 वर्ष के थे तभी अपने व्यावसायिक सहयोगियों(Business Partners)से अनबन की वजह से उनके पिता का काम पूरी तरह खत्म हो गया. पूरा परिवार सड़क पर आ गया और इसी के साथ संदीप के कंधों पर आ गई परिवार को चलाने की जिम्मेदारी भी…

हालात बिगड़ने लगे, हालात से मजबूर होकर संदीप को पढ़ाई छोड़नी पड़ी उस समय वह किरोड़ीमल कॉलेज से  बीकॉम की पढ़ाई कर रहे थे . दोस्तों वैसे हम कुछ भी क्यों ना कहें बहुत महत्वपूर्ण होता है, पैसा ! जीवन में व्यक्ति के पास धन जैसे-जैसे घटने लगता है, परेशानियां उसी हिसाब से बढ़ने लगती है. संदीप के परिवारवालों ने बहुत से छोटे छोटे काम-धंधे करने की कोशिश की. फोटोकॉपी  पीसीओ(PCO) की दुकान भी चलाई (जो कि कभी बहुत लोकप्रिय हुआ करता था) लेकिन जिंदगी से कठिनाइयां दूर होने का नाम ही नहीं ले रही थी.

हालात कुछ ऐसे भी बने कि  बचपन से टाटा बिरला बनने का सपना देखना वाला संदीप अब महज चार पांच हजार रूपये के लिए नौकरी करने को तैयार हो गया था. आज एक सफल बिजनेसमैन और लाइफ कोच बनने के बाद संदीप अपने जीवन के इस दौर को नकारते नहीं है, इसे एक लर्निंग प्रोसेस के रूप में देखते हैं. 

जीवन का संघर्ष और नेटवर्क मार्केटिंग

उन्हीं दिनों संदीप अपने एक दोस्त के साथ एक नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी के सेमिनार में गए. इस सेमिनार में जाने को  संदीप जीवन को बदलने वाली घटना मानते हैं. संदीप बताते हैं कि लगभग 3 घंटे के सेमिनार में वो ऐसे ही बैठे रहे, लेकिन जब अंत में एक 21 साल का लड़का मंच पर आकर बोला-” मेरी उम्र 21 साल है और मैं 2.5 लाख रूपये प्रतिमहीना कमाता हूं.” संदीप के दिमाग में बिजली सी कौंध गई… अगर यह कर सकता है, तो मैं क्यों नहीं कर सकता ? why not i ? 

संदीप ने कई बार स्वीकार किया है कि यह घटना उनके जीवन में आमूल चूल  परिवर्तन लेकर आया. 

संदीप ने MLM में  काम करके लाखों रुपए कमाए. लेकिन जिस कंपनी में वह काम कर रहे थे,उसके खराब नीयत  का पता चलने के बाद संदीप ने कंपनी को छोड़ दिया. इसके बाद खुद की MLM स्थापित कर दी जहां वो software solutions तथा अन्य डिजिटल प्रॉडक्ट(Digital Product) बेचा करते थे. यहां पर भी अच्छी खासी सफलता प्राप्त की..

मॉडल और फोटोग्राफर का जीवन

इसके बाद sandeep maheshwari ने model बनने की सोची. उन्होंने college के बच्चों को jion किया(क्योंकि एक तथ्य है कि खुद को महान,सर्वगुण संपन्न मानने की भूल हर कोई अपने जीवन में एकाध बार करता ही करता है) .वहां संदीप ने पाया कि हर दूसरा आदमी model बनना चाह रहा है. लेकिन सभी portfolio maker उनसे भारी पैसा वसूल कर बस झूठी तसल्ली  सांत्वना दे दे कर उन्हें ठग रहे है.

यहां पर अपने model बनने की इच्छा रखने वाले दोस्तों के लिए संदीप ने कुछ भी करके सब कुछ आसान करने की कोशिश की. उन्होंने सस्ते में अच्छा portfolio बनाने की निर्णय किया.अपने दोस्तों को इसकी पेशकश की. लोग पहले तो आजमाने आए फिर काम से प्रभावित हो customer बन गए.

इस व्यवसाय से संदीप को लाभ होने लगा. उनका थोड़ा नाम भी हो गया, लेकिन प्रसिद्धि के लिए कोई बड़ा काम आवश्यक है. क्योंकि बड़े काम को पाने के लिए बड़ा नाम भी होना आवश्यक है. संदीप ने लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड वालों से संपर्क कर photography का विश्व कीर्तिमान  स्थापित किया .Sandeep Maheshwari अब एक बड़ा नाम हो गया था, उनके पास अब काम बहुत ज्यादा आने लगे थे.

संघर्ष से सफलता की ओर

एक दिन उनके पास एक publisher दोस्त आया. उसने एक model की photo देखी, तो उसे बड़ा अच्छा लगा उसने प्रस्ताव दिया कि मेरे पास समय नहीं है photoshoot की, अतः मैं इस model को ₹2000 दूंगा और यह photo छाप दूंगा Ad में  अगर कहो तो हम डील आगे बढ़ाये.

इस डील से संदीप को एक नया आइडिया मिल गया. उन्होंने विज्ञापनकर्ताओं तथा मॉडल्स के बीच में पुल बनाने की  सोची… आज यह आईडिया imagesbazaar.com नाम की एक बहुत ही बड़ी और प्रतिष्ठित कंपनी है. जिसके भारत सहित दुनिया के कुल 45 देशों में हजारों की संख्या में क्लाइंट है.आज के भारत का शायद ही कोई विज्ञापन इमेजेजबाजार के इमेज का उपयोग  किए बिना पूरा होता हो…

दोस्तों, सफल बिजनेसमैन बनने  के बाद आज संदीप भारत के हजारों लाखों युवाओं को निशुल्क निजी और व्यावसायिक सफलता के गुर सिखा रहे हैं. ताकि जिन कठिनाइयों का सामना उन्हें करना पड़ा, इस कष्ट से आने वाली पीढ़ी को दो चार नहीं होना पड़े. अवसाद और कुंठा मानव जीवन की अनंत सम्भावनाओ का हरण कर मानव मस्तिष्क की ऊर्जा का और क्षय नहीं कर पाए इस संकल्प के साथ वो आगे बढ़ चले हैं .

अंत में सारांश:-

अंत में अगर संदीप माहेश्वरी के बारे में कुछ कहना चाहूँ तो यही कह सकता हूँ कि दिल्ली के एक साधारण से परिवार के इस शख्स ने, कामयाबी की नयी परिभाषा गढ़ने वाले इस इंसान ने, चुनौतियों के सामने खुद को इतना बड़ा बना दिया, कि आसान हो गयी जिंदगी…और आज अपने जीवन से मिले अनुभवों को फ्री में बांट कर लोगो की ज़िंदगी को आसान बना रहे हैं. सच में दुनिया तभी बदलेगी जब अंधेरी रात के मुकाबिल कोई दीया जलाने का एक सच्चा प्रयास करे… दोस्तों कैसी लगी आपको संदीप माहेश्वरी की जीवनी, अपने विचार जरूर कमेंट बॉक्स में लिख कर हम तक भेजें.

आपके जीवन में सबकुछ विशेष हो सबकुछ शुभ हो इन्ही प्रार्थनाओं के साथ फिर मिलेंगे…..

Must Read Articles:

NO COMMENTS

इस पोस्ट पर अपनी प्रतिक्रिया,अपनी बातें यहां नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर हम तक जरूर भेजिए.सभी नए पोस्ट के ईमेल नोटिफिकेशन पाने के लिए नीचे चेकबॉक्स को टिक करिये. धन्यवाद...!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!