Homeकरियर(Career)इंटर्नशिप एवं इसके फायदे | Internship in Hindi

इंटर्नशिप एवं इसके फायदे | Internship in Hindi

ad-

आपने अक्सर कॉलेज स्टूडेंट्स को यह कहते सुना होगा कि हम फलां संस्था या कंपनी के साथ जुड़कर इंटर्नशिप internship in hindi कर रहे हैं या कर चुके हैं। इंटर्नशिप एक प्रकार की ट्रेनिंग होती है, जोकि किसी भी निजी और सार्वजनिक संस्था द्वारा कॉलेज स्टूडेंट्स को दी जाती है।

जिससे नौकरी में आने से पहले कोई भी छात्र यह सीख सके कि किसी संस्था के अंतर्गत कार्य किस प्रकार से होता है?  क्योंकि कोई भी छात्र जो कॉलेज में पढ़ाई कर रहा होता है, उसके पास केवल किताबी ज्ञान ही मौजूद होता है।

Advertisements

ऐसे में कार्यक्षेत्र को लेकर उसका व्यवहारिक दृष्टिकोण भी मजबूत हो सके। इसी उद्देश्य के साथ कॉलेज स्टूडेंट्स को इंटर्नशिप कराई जाती है। हालांकि पहले जहां केवल मेडिकल की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थी ही इंटर्नशिप करते थे, तो वहीं अब मैनेजमेंट और इंजीनियरिंग छात्र भी इंटर्नशिप कर रहे हैं। जोकि कई प्रकार की होती हैं:-

internship in hindi for students at different technical course

Types of Internship in Hindi

  • मेडिकल इंटर्नशिप
  • अकाउंटिंग इंटर्नशिप
  • जर्नलिज्म इंटर्नशिप
  • आईटीआई/ जीटीआई इंटर्नशिप
  • मार्केटिंग इंटर्नशिप
  • डिप्लोमा इंटर्नशिप
  • इंजीनियरिंग इंटर्नशिप
  • मैनेजमेंट इंटर्नशिप
  • आर्ट्स एंड कल्चर इंटर्नशिप
  • सोशल इंटर्नशिप

क्या होता है इंटर्नशिप में

internship in hindi में आगे जानिए क्या होता है इंटर्नशिप । इंटर्नशिप को हिंदी में प्रशिक्षुता कहा जाता है। जिसे अधिकतर छात्र अपने पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष में किसी संस्था या कंपनी के साथ जुड़कर करते हैं। साथ ही जो विद्यार्थी किसी संस्था या कंपनी से जुड़कर इंटर्नशिप करता है, उसे इंटर्न कहा जाता है।

इंटर्नशिप करने के बाद प्रत्येक विद्यार्थी को एक इंटर्नशिप रिपोर्ट भी तैयार करके सबमिट करनी होती है। जिसमें विद्यार्थी मुख्यतः इस बात का वर्णन करते हैं कि विद्यार्थी ने इंटर्नशिप के दौरान क्या सीखा? इंटर्नशिप की अवधि कितने समय तक रही? इंटर्नशिप के समय आपको क्या-क्या जिम्मेदारियां दी गई? इत्यादि। साथ ही आपको अपना इंटर्नशिप सर्टिफिकेट भी दिखाना पड़ता है, जोकि आपको संबंधित कंपनी से प्राप्त होता है। 

इंटर्नशिप के फायदे Benefits of Internship in Hindi

इस लेख -internship in hindi में आगे जानते हैं इंटर्नशिप के दरम्यान और उसके बाद मिलने वाले प्रमुख लाभों के बारे में । ऐसे में अगर आपने अपने कोर्स के साथ कहीं इंटर्नशिप की है, तो जॉब इंटरव्यू के दौरान आपके नौकरी पाने की संभावना बढ़ जाती है। क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इंटर्नशिप के बाद विद्यार्थी में किताबी ज्ञान के साथ-साथ आवश्यक कौशल, तकनीक की समझ और संवाद की अच्छी शैली का विकास हो जाता है। साथ ही वह कार्यक्षेत्र में आने वाली चुनौतियों से निपटने में पहले से ही सक्षम हो जाता है। 

अधिकतर कॉलेज स्टूडेंट्स जो किसी भी सरकारी या प्राइवेट शिक्षण संस्थान से शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं, वह कॉलेज अध्यापकों की सहायता से और ऑनलाइन माध्यमों से इंटर्नशिप के लिए आवेदन करते हैं। जिसके लिए कुछ कंपनियां कॉलेज स्टूडेंट्स को छात्रवृति (stipend) भी देती हैं, जबकि कहीं कहीं इंटर्नशिप अनपेड भी होती हैं।  आजकल वर्चुअल इंटर्नशिप चलन में है, जहां विद्यार्थी घर बैठे ही किसी कंपनी से जुड़कर ऑनलाइन माध्यमों से इंटर्नशिप कर रहे हैं। 

इस प्रकार, इंटर्नशिप का अर्थ और प्रकार एवं प्रमुख लाभ को जानने के बाद अब हम आपको अपने इस करियर लेख के माध्यम से इंटर्नशिप से होने वाले अन्य वहावहारिक फायदों के बारे में बताने वाले हैं। जिसे पढ़कर आप अवश्य ही इंटर्नशिप के महत्व और वर्तमान प्रतिस्पर्धा के माहौल में उसकी उपयोगिता को समझ सकेंगे।

व्यवहारिक ज्ञान की प्राप्ति

आजकल किसी भी संस्था या कंपनी के साथ कार्य करने के लिए आपके पास आवश्यक ज्ञान और कौशल का होना जरूरी है। ऐसे में जब आप संबंधित क्षेत्र से जुड़ी किसी कंपनी के साथ इंटर्नशिप करते हैं, तो आपको व्यवहारिक ज्ञान की प्राप्ति होती है। सामान्य शब्दों में, इंटर्नशिप करने से आपको कार्य का अनुभव प्राप्त होता है, जिसके आधार पर ही आपको आगे किसी कंपनी में नौकरी मिलती है।

करियर को लेकर स्पष्ट नजरिया

कई विद्यार्थी ऐसे होते हैं जो बिना सोचे समझे किसी भी कोर्स में दाखिला ले लेते हैं और फिर आगे उन्हें नौकरी के दौरान काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अगर आप किसी कोर्स के साथ इंटर्नशिप करते हैं, तो आपको अपनी कमजोरी, कार्यक्षेत्र में कौशल की आवश्यकता और कार्यक्षेत्र में अपनी रुचि का ज्ञान हो जाता है। जिसके आधार पर आगे आप सही कार्यक्षेत्र का चुनाव करके उसमें अपने करियर को नई दिशा दे सकते हैं।

Advertisements

एक नए कौशल या हुनर का विकास

इंटर्नशिप के दौरान आपको अपने सीनियर्स से काफी कुछ सीखने को मिलता है। जिससे कहीं ना कहीं आपके कौशल में वृद्धि होती है और आप अपने कार्य के प्रति अधिक गंभीर होते हैं। इंटर्नशिप के दौरान आपको अपनी ताकत और कमजोरियों के विषय में जानकारी मिलती है। जिनमें सुधार करके आप आगे भविष्य के लिए खुद को तैयार कर सकते हैं।

साथ ही आपके सीनियर्स जब आपको आपकी किसी गलती के विषय में बताते हैं, तो आप इन गलतियों से ली गई सीखों का लाभ अपने आगामी नौकरी के दौरान ध्यान रखते हुए आगे बढ़ते हैं। जिससे आपको नौकरी के दौरान कार्यक्षेत्र को समझने में जहां अधिक समय नहीं लगता वहीं आपको उचित promotion सहित अन्य चीजों का लाभ मिलता है ।

आत्मविश्वास में बढ़ोतरी

जब आप किसी संस्था या कंपनी में इंटर्नशिप करते हैं, तो आगे आप जब नौकरी पाने के लिए इंटरव्यू देते हैं। तब internship से मिली वहावहारिक practical ज्ञान से आपका आत्मविश्वास पहले से अधिक मजबूत होता है ।

चूंकि आप संबंधित कार्य और कार्यक्षेत्र के बारे में पहले से ही जानते हैं। जिससे कहीं ना कहीं नौकरी के लिए होने वाले साक्षात्कार में आपका मनोबल ऊंचा रहता है । साथ ही आप इंटरव्यू के दौरान पूछे जाने वाले सवालों का जवाब सटीकता से देने की क्षमता रखते हैं, क्योंकि इंटर्नशिप करने के बाद आपके पास थोड़ा बहुत अनुभव अवश्य ही होता है। ऐसे में साक्षात्कार को सफलतापूर्वक पास कर नौकरी पाने की संभावना बढ़ जाती है ।

नेटवर्क का स्थापित होना

जब आप किसी कंपनी के साथ जुड़कर इंटर्नशिप करते हैं, तो वहां आपकी काफी लोगों से जान पहचान हो जाती है। जिससे कहीं ना कहीं आपकी नेटवर्किंग बढ़ती है, और नौकरी के दौरान आपको उस नेटवर्क का फायदा मिलता है।

आपको इंटर्नशिप के दौरान कई ऐसे लोग भी मिलते हैं, जो एक मेंटर की तरह आपकी कमियों और ताकत को पहचानकर आपकी योग्यता को निखारते हैं। जिससे आप कार्यक्षेत्र पर मिली जिम्मेदारी को अच्छे से निभाते हैं।

चूंकि कॉलेज में रहकर आप उद्योग जगत के लोगों से अधिक व्यवहार नहीं बना पाते हैं। ऐसे में इंटर्नशिप के दौरान आपको अपने क्षेत्र से जुड़े अनुभवी व्यक्तियों के संपर्क में रहने का मौका मिलता है। जिससे आपको भविष्य में कार्य करने के अच्छे और अनेक अवसर प्राप्त होते हैं।

इस प्रकार आप इंटर्नशिप करके कार्यक्षेत्र का वास्तविक अनुभव प्राप्त करते हैं। साथ ही आपकी संवाद और व्यवहारिक शैली भी विकसित होती है। यह आपको भविष्य में मिलने वाली जिम्मेदारियों से रूबरू कराती है, और इससे आपका एक प्रोफेशनल नेटवर्क तैयार होता है।

इसके साथ ही इंटर्नशिप किसी भी इंटर्न में शोध और विश्लेषणात्मक क्षमता को विकसित करती है। उसमें नेतृत्व का गुण विकसित होता है। इंटर्नशिप के माध्यम से मिले अनुभव से आपके रिज्यूमे या सीवी को अधिक प्राथमिकता मिलती है और आगे नौकरी मिलने में यह आपको सहायता प्रदान करती है।


उम्मीद है इंटर्नशिप से संबंधित यह लेख-internship in hindi आपके लिए उपयोगी रहा होगा । इस लेख पर अपने विचार और इसे और अधिक उपयोगी बनाने हेतु सुझाव नीचे कमेन्ट बॉक्स में लिख कर जरूर भेजें ।

बने रहिये Vichar Kranti.Com के साथ । अपना बहुमूल्य समय देकर लेख पढ़ने के लिए आभार ! आने वाला समय आपके जीवन में शुभ हो ! फिर मुलाकात होगी किसी नए आर्टिकल में ..

यदि आपको हमारा प्रयास अच्छा लगा हो तो इस लेख पर अपने विचार आगे comment box में लिख कर जरूर भेजें । इसे अपने दोस्तों के साथ social media पर भी शेयर करें एवं ऐसे ही अच्छी जानकारियों के लिए हमें सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर लें ।

निवेदन : – यदि आप हिन्दी में विविध विषयों पर अच्छा लिखते हैं या आपको अच्छा इमेज बनाने आता है या कोई ऐसी skill आपमें है जिसकी आप समझते हैं कि vicharkranti blog को जरूरत हो सकती है तो कृपया आप हमारे पेज work4vicharkranti पर जाकर अपना details सबमिट कीजिए । साथ ही हमें एक मेल भी डाल दीजिए हमारा email id है -contact@vicharkranti.com । हमारी टीम आपसे संपर्क कर लेगी ।

Reference(संदर्भ )

Advertisements
VicharKranti Editorial Team
VicharKranti Editorial Team
जरूरत भर की नई और सही सूचनाओं को आप तक पहुंचाना ही लक्ष्य है । विद्यार्थियों के लिए करियर और पढ़ाई लिखाई के अतिरिक्त प्रेरक content लिखने पर हमारा जोर है । हमारे लेखों पर अपने विचार comment box में लिखिए और विचारक्रान्ति परिवार का हिस्सा बनने के लिए नीचे दिए गए सोशल मीडिया हैंडल पर हमसे जुड़िये

Subscribe to our Newsletter

हमारे सभी special article को सबसे पहले पाने के लिए न्यूजलेटर को subscribe करके आप हमसे फ्री में जुड़ सकते हैं । subscription confirm होते ही आप नए पेज पर redirect हो जाएंगे । E-mail ID नीचे दर्ज कीजिए..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

आपके लिए कुछ और पोस्ट

VicharKranti Student Portal

छात्रों के लिए कुछ positive करने का हमारा प्रयास । इस वेबसाईट का एक हिस्सा जहां आपको मिलेंगी पढ़ाई लिखाई से संबंधित चीजें ..