Home करियर(Career) EWS in Hindi-पढ़िए EWS से जुड़े सभी प्रश्नों के उत्तर

EWS in Hindi-पढ़िए EWS से जुड़े सभी प्रश्नों के उत्तर

इस आर्टिकल(ews in hindi) को पूरा पढ़ने के उपरांत आप ईडब्ल्यूएस आरक्षण क्या है ? इस सुविधा का लाभ कौन उठा सकता है? ews certificate के लिए आवश्यक शर्त क्या है ? उसे कहां से बनाया जा सकता है जैसे प्रश्नों के साथ ही आप इससे संबंधित विवाद के बारे में भी आप जान पाएंगे ।

कुछ दिन पहले मुझे एक पाठक का प्रश्न आया था । जिसमें उन्होंने मुझसे ईडब्ल्यूएस के बारे में बताने को कहा।हालांकि यह किसी भी प्रकार से इस ब्लॉग पर लिखे जाने वाले विषयों की सूची में शामिल नहीं है, लेकिन यदि अपनी लेखनी के माध्यम से मैं किसी के मन में उठ रहे जिज्ञासाओं में से किसी एक का भी  शमन कर पाऊँ तो इसी में इस ब्लॉग की सार्थकता है । 

यहां हमने केवल किसी प्रश्न विशेष का उत्तर देने की बजाय EWS certificate से संबंधित सभी प्रश्नों के उत्तर को एक प्रश्नमाला में पिरो कर लिख दिया है । जिससे हमारे उस पाठक के प्रश्न का भी सांकेतिक उत्तर मिल जाएगा और इससे समान जिज्ञासा रखने वाले अन्य लोगों की भी मदद हो जाएगी । शेष यह कि आपके विशेष प्रश्नों और टिप्पणियों का नीचे कमेन्ट बॉक्स में स्वागत है । 

लोकतंत्र और EWS आरक्षण

AD

भारत एक संविधान द्वारा संचालित लोकतांत्रिक गणराज्य है । जिसमें संविधान द्वारा लैंगिक ,सामाजिक, राजनैतिक या अन्य आधार पर विभेद किए बिना भारत के नागरिकों को जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में सौहार्दपूर्ण सहअस्तित्व को बढ़ावा देते हुए प्रगति करने के समान अवसर की उपलब्धता को सुनिश्चित करने का ध्येय निर्धारित किया गया है ।

आरक्षण आगे बढ़ने हेतु किसी खास जन समूह को दिया जाने वाला एक प्रकार का विशेष अवसर है । जिससे उस समूह विशेष के लोग देश या शासन की मुख्यधारा में जुड़ कर अधिक अपनत्व और सहजता का अनुभव करतें हैं ।21 वीं सदी के लोकतंत्र की यह एक विशेष पहचान भी है ।

अमरीका से शुरू हुई यह affirmative action की व्यवस्था दुनियां के विभिन्न देशों में अलग अलग नामों से है । अमेरिका में एफरमेटिव एक्शन, कनाडा में इम्प्लॉइमन्ट इक्वालिटी, इंग्लैंड में positive action के अंतर्गत व्यवस्था में कुछ हद तक अफ्रीकन लोगों के लिए प्रोत्साहन की व्यवस्था है ।

जापान में भी सरकारी नौकरियों में कोरियन मूल के लोगों के लिए कुछ सीटों (लगभग < 5% )को सुरक्षित रखा गया है । ऐसी ही कहानी कमोबेश हर देश में है । ये एक अलग ही मुद्दा हो जाएगा इसको यहीं छोड़ते हैं ।

ews कैसे लागू हुआ

भारत की संसद ने वर्ष 2019 में 103 वें संविधान संशोधन (Economic Weaker Section Reservation Bill Article 15(6) and Article 16(6) ) के द्वारा आरक्षण की तत्कालीन व्यवस्था से वंचित आर्थिक दृष्टि से कमजोर सामान्य वर्ग( General or Open Category )  के व्यक्तियों के लिए शिक्षा तथा नौकरियों में (only civil jobs) 10 प्रतिशत के कोटे को सुरक्षित कर दिया । 

विज्ञापन

इस बिल को 7 January 2019 को कौंसिल ऑफ मिनिस्टर ने स्वीकृत किया, फिर विभिन्न प्रक्रियाओं से गुजरते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द के हस्ताक्षर के बाद भारत सरकार के गजट में इसे 12 जनवरी 2019 को प्रकाशित कर दिया गया । 

इडब्ल्यूएस (ews in hindi) से संबंधित महत्वपूर्ण तिथियाँ 

  • लोकसभा – 8 जनवरी 
  • राज्यसभा -9 जनवरी 
  • राष्ट्रपति -12 जनवरी 
  • 14 जनवरी 2019 को गुजरात ने पहले राज्य के रूप में इसे लागू कर दिया । 

Full Form of EWS in Hindi

EWS का फुल फॉर्म हिन्दी और अंग्रेजी में क्रमशः नीचे दिया गया है
ews का फुल फॉर्म हिन्दी में (ews full form in hindi ) है – आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग 
तथा इंग्लिश में full form of ews है – Economically Weaker Section

EWS सुविधा का लाभ कौन ले सकता है

EWS Reservation Criteria

विज्ञापन

ews की सुविधा प्राप्त करने के लिए कुछ मानक निर्धारित किए गए हैं जिसे पूरा करने वाला व्यक्ति ही इस सुविधा का लाभ उठा सकता है । इन सभी पात्रता शर्तों का उल्लेख  हम नीचे कर रहें हैं । 

ग्रामीण अंचल में 

  • उम्मीदवार भारत सरकार द्वारा दी जा रही किसी अन्य आरक्षण व्यवस्था (SC, ST or OBC Reservation ) के अंतर्गत नहीं आता हो । 
  • सभी स्त्रोतो को मिला कर परिवार की सालाना आय 8 लाख रुपये से अधिक की नहीं होनी चाहिए । आय का यह प्रतिबंध उस वर्ष के लिए है जिस वर्ष के लिए उम्मीदवार ews प्रमाणपत्र बनाना चाहता है । 
  • परिवार के पास खेती के लिए ( कृषियोग्य ) पांच एकड़ से अधिक जमीन नहीं होनी चाहिए । 

शहरी क्षेत्रों में 

  •  परिवार के पास 1000 वर्गफीट या इससे  ज्यादा का फ्लैट नहीं होनी चाहिए ।
  • परिवार के पास 100 वर्ग गज या इससे अधिक की जमीन नहीं होनी चाहिए ।
  • परिवार के पास 200 वर्ग गज या उससे अधिक क्षेत्रफल का आवासीय प्लॉट (अधिसूचित नगरपालिका  के अलावा ) नहीं होनी चाहिए । 

परिवार की आय की गणना 

सीधे शब्दों में कहें तो परिवार का मतलब यहां ews का लाभ  प्राप्त करने के इच्छुक उमीदवार ,उनके माता-पिता , उनकी पत्नी और बच्चें (जिनकी उम्र 18 वर्ष से कम हो ) तथा भाई अथवा बहन जिनकी उम्र 18 वर्ष से कम हो  से है । इन के अलावा अन्य लोगों द्वारा किए गए आय को, परिवार की  ews reservation criteria निर्धारित करने हेतु आय गणना में शामिल नहीं किया जाता है ।  

  1. EWS Status का निर्धारण करते समय विभिन्न स्थानों पर परिवार के स्वामित्व वाली सभी संपतियों को जोड़ कर फिर ईडब्ल्यूएस स्थिति ( EWS Status )  की योग्यता का निर्धारण किया जाता है । 
  2. इसी प्रकार परिवार की आय गणना में परिवार के ऊपर बताए गए सदस्यों द्वारा की जाने वाली आय को ही परिवार के आय में गिना जाता है । 

ews Certificate कैसे बनायें 

ews certificate को वस्तुतः Income and Asset Certificate कहा जाता है । कुछेक जगहों में इसके अनलाइन बनाने की प्रक्रिया आरंभ हुई है लेकिन अधिकांश जगहों पर इसे ऑफलाइन मोड में ही बनाया जाता है । आय प्रमाणपत्र राज्य सरकार के अधिकारियों द्वारा ही बनायी जाती है । 

ऑफलाइन मोड में इसे बनाने के लिए आपको तहसील स्तर पर जा कर इसे बनवाना होगा । इस प्रमाणपत्र को उस क्षेत्र (जिसमें उमीदवार और उनका परिवार रहता हो ) के राजस्व अधिकारी (तहसीलदार या उससे ऊपर के पद वाले अधिकारी ) बना सकते हैं  । 

इसके अलावा अन्य अधिकारी जिनका उल्लेख Annexure-I  में किया गया है वो भी इसे बना सकते हैं । 

ews आवेदन के लिए  राज्य का नाम ,आवेदक का नाम, आवेदक के अभिभावक  का नाम , आवासीय पता , वित्तीय वर्ष , जाति और पासपोर्ट साइज़ के फोटोग्राफ की जरूरत पड़ती है । तो यदि आप ews आवेदन के लिए जा रहे / रही हैं तो आपके पास ये सूचनाएं होनी चाहिए । 

भारत सरकार द्वारा जारी ews प्रमाणपत्र का प्रारूप पूरे देश के लिए एक ही है । जिसे आप या तो संबंधित राज्य के आधिकारिक वेबसाईट से डाउनलोड कर print कर सकतें हैं या फिर इसे निर्गत करने वाले अधिकारी के कार्यालय से आपको यह मिल जाएगा । 

वैसे अब यह बहुत सुगमता से उपलब्ध है सामान्य बुक स्टोर और फॉर्म की दुकान पर भी !   नीचे हमने इसका एक संभावित प्रारूप आपके लिए प्रस्तुत किया है । 

ईडब्ल्यूएस फॉर्म का प्रारूप (format ews form)

ews-certificate-format

ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के लिए जरूरी दस्तावेज 

इस आर्टिकल में हमने सरल हिन्दी में ईडब्ल्यूएस(ews in hindi) को समझाने का प्रयास किया है । आगे पढिए ईडब्ल्यूएस प्रमाणपत्र बनाने के लिए आवश्यक दस्तावेज की सूची जो इस प्रकार से है – 

  1. ews आवेदन पत्र 
  2. पहचान पत्र /राशन कार्ड / आधार कार्ड 
  3. पैन कार्ड 
  4. आय प्रमाण पत्र 
  5. फ़ोटो 
  6. और एक शपथ पत्र 

EWS तथा OBC में अंतर 

  • ओबीसी आरक्षण ( 27%) की सुविधा अन्य पिछड़ा वर्ग के उन उम्मीदवारों के लिए है जो क्रीमी लेयर में नहीं आते हैं । जबकि ews आरक्षण,   ओबीसी एससी एस टी के आरक्षण से वंचित मुख्यतः सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए है । 
  • पारिवारिक आय के निर्धारण में ओबीसी आरक्षण में क्रीमी लेयर निर्धारित करने में उम्मीदवार के पति अथवा पत्नी की आय को शामिल नहीं किया जाता जबकि ईडब्ल्यूएस में आय निर्धारण करने में उम्मीदवार के पति अथवा पत्नी  की आय को भी शामिल किया जाता है ।  
  • उम्मीदवारों को ईडब्ल्यूएस आरक्षण  में ऊपरी उम्र सीमा या प्रयासों की संख्या में कोई छूट नहीं मिलती जबकि अन्य आरक्षणों में अधिकतम उम्र सीमा और प्रयासों की संख्या में छूट का प्रावधान  है । 

ews से जुड़े विवाद

ews आरक्षण आर्थिक दृष्टि से कमजोर  ऐसे लोगों के लिए है जो वर्तमान की आरक्षण व्यवस्था के अंतर्गत  नहीं आते हैं । आधुनिक भारत में अवसरों की समान उपलब्धता को सुनिश्चित करने के लिए पहली बार आरक्षण का आधार केवल सामाजिक स्थिति को न मानकर आर्थिक स्थिति को भी माना गया है । 

हालांकि इस पर बहुत विवाद भी है । जिसमें यूथ फॉर इक्वालिटी सहित कुछ अन्य संस्थाएं  इस आरक्षण का विरोध कर रहीं हैं । इसके खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय में ईडब्ल्यूएस आरक्षण की संवैधानिक वैधता (constitutional legality) पर मुकदमा लड़ रहीं हैं ।

चुकि सुप्रीम कोर्ट ने ही इंदिरा साहनी vs भारत सरकार के case में 50 प्रतिशत आरक्षण को आरक्षण की एक उच्च सीमा माना था । वहीं दूसरी ओर कुछ लोग इसे मौजूदा आरक्षण के अंतर्गत आने वाले व्यक्तियों के लिए अवसरों की कमी करने का भी आरोप लगा रहें हैं ।

क्योंकि पहले से जिन समूहों को सामाजिक आधार पर आरक्षण प्राप्त है उनका कहना है कि उस जनसमूह के लोग अपनी केटेगरी में तो सीट ले ही रहे थे बाकी का जो 50 प्रतिशत सीट अनारक्षित थी, उसमें भी उनको प्रतिनिधित्व मिल जाया करता था । जिसमें से अब 10 प्रतिशत सीट सीधे घट जाएंगी जिसका आनुपातिक प्रभाव निश्चित पड़ेगा ।

EWS in Hindi-कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न 

Full form of ews क्या है ? 

Economically Weaker Section

ews certificate की वैधता क्या है ?

एक वर्ष (चूंकि इसे किसी खास वित्तीय वर्ष के लिए जारी किया जाता है इसलिए इसकी वैधता एक वर्ष की मानी जा सकती है )

ews certificate कहां से प्राप्त कर सकते हैं ?

तहसीलदार या अन्य समकक्ष अधिकारी के कार्यालय से इसे बनवाया जा सकता है ।

ews certificate बनाने में कितना दिन लगेगा । 

विभिन्न राज्यों में आज कल सेवा का अधिकार लागू होने से इसे आवेदन करने के अधिकतम 21 दिनों के अंदर जारी कर दिया जाता है । यह राज्य दर राज्य परिवर्तित भी हो सकती है । 

क्या ओबीसी, एससी, एस टी, EWS के लिए आवेदन कर सकते हैं ?

नहीं 

कौन ews certificate नहीं बनवा सकता है ?

ऐसे उम्मीदवार जिनके पास 5 एकड़ या उससे ज्यादा कृषि योग्य जमीन हो या जिनके पास 1000 वर्गफीट से अधिक क्षेत्रफल का फ्लैट हो ।

यदि इस आरक्षण को समाप्त कर दिया गया तो इसके द्वारा नौकरी पाने वाले लोगों को निकाल दिया जाएगा ?

भारतवर्ष में ऐसे मामले कुछ अन्य जगहों पर भी हुए है, लेकिन एक बार जिन्हे नियुक्ति मिल गई उनको निकाला नहीं गया है। इसलिए यहां भी ऐसा कुछ होने वाला नहीं है ।

निष्कर्ष :

हमें पूरा विश्वास है कि ईडब्ल्यूएस पर लिखा गया यह लेख(ews in hindi) जिसमें हमने ews का लाभ लेने के लिए प्रमाण पत्र(ews certificate) कैसे बनाएंगे उसके लिए क्या पात्रता है ? आय की गणना कैसे होती है ?  परिवार में  किन सदस्यों को शामिल किया जाता है तथा ews से जुड़े कुछ FAQ सहित  ईडब्ल्यूएस आरक्षण की भूमिका और इससे जुड़े विवाद को भी लिखने का प्रयास किया है,  को आप सार्थक मान रहे होंगे । 

शेष यह कि आप इस लेख को कितना उपयुक्त मानते हैं या इसमें और क्या होने से आपको कहीं और कुछ नहीं ढूँढना पड़ता ! सहित अन्य सभी  प्रकार की टिप्पणियां नीचे कमेंट बॉक्स में सादर आमंत्रित हैं …लिख कर जरूर भेजें ! इस लेख को अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल्स पर शेयर भी करे क्योंकि Sharing is Caring !

बने रहिये Vichar Kranti.Com के साथ । अपना बहुमूल्य समय देकर लेख पढ़ने के लिए आभार ! आने वाला समय आपके जीवन में शुभ हो ! फिर मुलाकात होगी किसी नए आर्टिकल में ..

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो आपको हमारा फेसबुक पेज जरुर पसंद आएगा…! हमसे जुड़ने के लिए इस लिंक >> विचारक्रांति फेसबुक पेज << पर क्लिक करके आप हमसे Facebook पर जुड़ सकतें हैं

निवेदन :यदि आप भी हिंदी में कुछ मोटिवेशनल अथवा अन्य आर्टिकल लिख कर प्रकाशित करवाना चाहते हैं, तो लिख भेजिए अपने फोटो के साथ हमारे Email पते पर। हम उसे समीक्षा के पश्चात आपके नाम से प्रकाशित करेंगे।हमसे जुड़ने के लिए संपर्क कीजिये Email :contact@vicharkranti.com

References(संदर्भ) :

AD
Admin
विचारक्रांति(Vichar-Kranti.Com) पर पढ़िए जीवनी, सफलता की कहानियां,प्रेरक तथ्य तथा जीवन से जुडी और भी बहुत कुछ और बनिए विचारक्रांति परिवार का हिस्सा . विचारक्रांति जीवन के हर क्षेत्र में....

इस पोस्ट पर अपनी प्रतिक्रिया,अपनी बातें यहां नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर हम तक जरूर भेजिए.सभी नए पोस्ट के ईमेल नोटिफिकेशन पाने के लिए नीचे चेकबॉक्स को टिक करिये. धन्यवाद...!

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

कुछ नए पोस्ट्स

परोपकार का फल -प्रेरक हिन्दी कहानी

भारतीय दर्शन में तो परोपकार की बड़ी महिमा बताई गई है...

TRP क्या है और टीवी के लिए कैसे महत्वपूर्ण है ?

आजकल जिस तरह से टीआरपी से जुड़े मुद्दे सामने आ रहे...

Communication Skill सुधारने के 9 टिप्स हिन्दी में

Communication Skill in Hindi: इस लेख में आप जान पाएंगे कम्यूनिकेशन...

दुर्गापूजा पर निबंध Druga Puja Essay in Hindi

दुर्गापूजा पर निबंध: शारदीय नवरात्र बहुत समीप है तो हमने...

Hindi Handwriting सुधारने के 9 सूत्र

Hindi Handwriting:अच्छा लिखना हम सब की ईच्छा होती है लेकिन सभी...

कौन है दुनियां का सबसे अमीर आदमी -2020 में

चलिए जानते हैं इस आर्टिकल में कि - 2020 में कौन...

भगत सिंह के 21 क्रांतिकारी विचार-Bhagat Singh Quotes Hindi

इस पोस्ट(bhagat singh quotes) को हमने समर्पित किया है महान क्रांतिकारी...

EWS in Hindi-पढ़िए EWS से जुड़े सभी प्रश्नों के उत्तर

इस आर्टिकल(ews in hindi) को पूरा पढ़ने के उपरांत आप ईडब्ल्यूएस...
संबद्ध लिंक अमेजन -

पढिए अच्छी किताबों मे
सफलता के सीक्रेट

Vichar-Kranti

पढ़िए जीवन बदलने वाले Ideas,महापुरुषों के प्रेरक वचन,जीवनी, करियर के विकल्प और भी बहुत कुछ...जुड़िये विचारक्रांति से

error: Content is protected !!